इस ब्लाग की सभी रचनाओं का सर्वाधिकार सुरक्षित है। बिना आज्ञा के इसका इस्तेमाल कापीराईट एक्ट के तहत दडंनीय अपराध होगा।

Saturday, August 27, 2011

अतंतः लोकतंत्र जीत गया.............

चित्र गुगल साभार


और अतंतः लोकतंत्र जीत गया। आजादी के बाद ये पहली बार हुआ कि कोई क्रांति सफल हुई। इसके पहले हम बाबा रामदेव का हाल देख चुके थे। आजादी के बाद ये पहली क्रांति है जो बिना खुन खराबे के सफल हो गया और जनता की जीत हुई। हालाकि जेपी आंदोलन भी सफल हुआ था पर उसमें जो दमन चक्र चला वो किसी हैवानियत से कम नही था। शायद इसलिए ये सफलता और भी मायने रखती है। जैसा कि अन्ना हजारे ने कहा है कि ये जीत अभी अधुरी है। जाहिर है इस जीत के साथ हमें भी कसम उठानी होगी कि न तो हम भ्रष्टाचार करेगें और न ही किसी को करने देगें। वरना अन्ना हजारे जी का बारह दिनों का उपवास और असंख्य लोगो का दिन रात की मेहनत पर पानी फिर जाएगा। कानुन अगर बनता है तो तोड़ने वाले भी पैदा होते है। भ्रष्टाचार को रोकने के लिए पहले भी कानुन था उसके बावजुद भी हमारा देश उपर से लेकर नीचे तक भ्रष्टाचार में लिप्त हो गया। जिसको जैसे मिला वो बहती गंगा में हाथ धोता रहा। तो ये मान लेना भी मुर्खता होगी कि लोकपाल कानुन बन जाने के बाद भ्रष्टाचार पुरी तरह से समाप्त हो जाएगा। भ्रष्टाचार का दानव पुरी तरह से उस दिन अपने आप समाप्त हो जाएगा जिस दिन इस देश का प्रत्येक व्यक्ति अपने कर्तव्यों का निर्वाहण पुरी इमानदारी से करेगा। 

चित्र गुगल साभार

4 comments:

  1. रष्टाचार का दानव पुरी तरह से उस दिन अपने आप समाप्त हो जाएगा जिस दिन इस देश का प्रत्येक व्यक्ति अपने कर्तव्यों का निर्वाहण पुरी इमानदारी से करेगा......

    ईश्वर करे ऐसा ही हो ... सन्देश देते हुए प्रेरक लेख के लिए आपका बहुत बहुत आभार...

    ReplyDelete
  2. अमित जी,
    नमस्कार,
    आपके ब्लॉग को "सिटी जलालाबाद डाट ब्लॉगसपाट डाट काम" के "हिंदी ब्लॉग लिस्ट पेज" पर लिंक किया जा रहा है|

    ReplyDelete